देश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बहुमत के साथ है। जब के भाजपा ने जनता से बहुमत के बदले उन्हें गरीबी जुमले भ्रष्टाचार किसान आत्महत्या गोरक्षा के वायदे तथा अन्य दो जहान के वायदे ही मिले ।जिसके चलते मौजूदा सरकार से जनता बहुत दुखी है ।तथा परिवर्तन चाहती है मोदी जी ने कोशिश करके 2019 में सरकार बनाने का सपना देखना शुरु कर के किया है बलके जनता परिवर्तन के मूड में है। तथा उन्हें एक ही ऑप्शन दिखाई दे रहा है वह है ।कांग्रेस जिसने आजादी से लेकर आज तक देश के विकास तथा बच्चों महिलाओं व किसानों की तरक्की के लिए हर संभव कोशिश की है। मोदी जी द्वारा एक से बढ़कर एक जुमला पेश किया गया हर बात पर यह कहा गया कि पिछले 70 सालों से कांग्रेस ने क्या किया है वह यह भूल गए कि उन्होंने जो 4 साल पहले वादे किए थे ।उनको पूरा करना है मोदी सरकार ने एक भी वादा पूरा नहीं किया मोदी सरकार ने 4 साल पहले सांसदों द्वारा गोद लिए गए गांव की तरक्की के लिए कोई कदम नहीं उठाया है। गांव गोद लेना केवल एक प्रथा या फिर जुमला कहा जा सकता है ।मोदी जी ने देश के विकास के लिए योजनाएं सफल बनाने की बजाए 2019 के चुनाव को ध्यान में रखते हुए बार-बार बयान बाजी की के कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने जनता के लिए क्या किया। जब के यह बात भूल गए के सरकार मौजूद वक्त में भाजपा की है तो उन्हें जनता के लिए कोई शुभ कार्य करने की जरूरत है ।भाजपा की कुरीतियों तथा पूंजीपतियों के पक्ष में लिए गए फैसले को देखते हुए राहुल गांधी जी बहुत दुखी दिखाई दिए । क्योंकि राहुल गांधी जैसा नेता ही जनता के दुख दर्द को समझ सकता है।राहुल गांधी जी ने संसद में खड़े होकर भाषण दिया ।जिसका नतीजा यह हुआ कि मोदी जी तथा उनके भक्त लोग दुनिया भर से इकट्ठे होकर भीड़ बनकर राहुल गांधी को घेरने की तैयारी करने लगे । राहुल गांधी जी का भाषण भाजपा के लिए इतना घातक हथियार सिद्ध हुआ के भाजपा के हर नेता तथा उनके पूंजीपति साथियों ने बारी बारी से प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बयान बाजी की । मोदी जी ने भी राहुल गांधी के लिए भाषण का जवाब देने के लिए कई घंटों का समय लगाया । जिस के अंतराल में उन्हें कई बार पानी पीना पड़ा। राहुल जी के प्रश्नों का जवाब देने के लिए मोदी जी का चेहरा अलग-अलग रंग दिखा रहा था। मोदी जी समझ नहीं पा रहे थे कि उन्होंने ऐसा कोई कार्य नहीं किया है , जिससे जनता ,भारत देश, इसके किसान गरीब या किसी महिला का फायदा हुआ हो जिसके चलते उनको राहुल गांधी जी के प्रश्नों का जवाब देने के लिए कोई रास्ता नहीं दिख रहा था। उत्तर प्रदेश के दौरे पर निकले भाजपा नेता की गाड़ी को देखकर प्रदेश की बेटियों ने नेता जी को काले झंडे दिखाए । जिसके परिणाम स्वरुप इन बहादुर तथा दमदार लड़कियों को बालों से घसीटते हुए डंडों से पीटा गया तथा हिरासत में ले लिया गया। इसे देखकर लगता है कि यह भाजपा की घटिया नीति का परिणाम है। इससे समझा जा सकता है कि काले झंडे दिखाने वाली जनता मोदी तथा इस सरकार के नेताओं से खुश नहीं है। इलाहाबाद में बीजेपी अध्यक्ष को काला झंडा दिखाने के परिणाम स्वरुप लड़कियों को पुलिस ने बहुत बेरहमी से मारा और इसके साथ-साथ सबसे दुख भरी कहानी यह हुई के इस बात का जिक्र किसी न्यूज़ चैनल ने ढंग से नहीं किया। जिससे लगता है कि मीडिया वाले भी बिक चुके हैं। इन लड़कियों द्वारा बीजेपी अध्यक्ष को काले झंडे दिखाने के कर्तव्य को सुनते ही देशभक्तों का मन अंदर ही अंदर खुश हुआ तथा यह महसूस होने लगा कर इस भ्रष्टाचारी तथा पूंजीवादी सरकार का अंत आ चुका है ।जिसका नतीजा 2019 में देखने को मिलेगा। इसी तरह की जनता विरोधी नीतियों के चलते भाजपा के युवा मोर्चा की आदमपुर विधानसभा में जिला अध्यक्ष के खिलाफ रोष व्यक्त देखने को मिला। बताया जा रहा है कि युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष की कार्यप्रणाली से नाराज होकर तीन मंडल अध्यक्षों ने अपने पद से त्यागपत्र देने का मन बना लिया। मिली जानकारी के मुताबिक आदमपुर भारतीय जनता युवा मोर्चा के मंडल अध्यक्ष , जिला अध्यक्ष की कार्यप्रणाली से खफा है। अंदरखाते विधानसभा के तीनों मंडल विधान सभा के भारतीय युवा मोर्चा के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता जिला अध्यक्ष द्वारा ऑर्डर देने के रवैया से खफा है। इतना नहीं भाजपा की रैलियों में जाने के लिए जिला अध्यक्ष द्वारा अलग से बार-बार हिदायत जारी करने पर युवा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है। इस बात को केवल उदाहरण के तौर पर समझा जा सकता है। बाकी पूरे देश में इसी प्रकार का माहौल भारतीय जनता पार्टी ने बना रखा है। 28 जुलाई को सिरसा के बेगू में हरियाणा OBC मंच की तरफ से हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस के डॉक्टर अशोक तवर को सादर आमंत्रित किया गया ।अशोक तंवर की अध्यक्षता में OBC मंच की तरफ से समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें कांग्रेस के कार्यकर्ता भाई रमेश भादू, भजन सिंह सामा तथा सामाजिक कार्यकर्ता सुखविंदर सिंह सामा ने भाग लिया। जिसमें बड़े जोरों शोरों के साथ जनता ने पहुंच कर ओबीसी जिलाध्यक्ष बूटा सिंह थिंद तथा अन्य नेता गणों का सम्मान किया गया।

कांग्रेस के कार्यकर्ता तथा सामाजिक कार्यकर्ता सुखविंदर सिंह सामा ने बताया कि जिस कदर देश की जनता भारतीय जनता पार्टी से नाखुश है। इससे यही साबित होता है के 2019 के चुनाव में भारत की जनता भाजपा को BJP के तरीके से जवाब देकर कांग्रेस को बहुमत से केंद्र तथा राज्य में जीत दर्ज कराएगी। मेरी सभी देशवासियों से विनती है के आज हिंदुत्व के नाम पर लड़ रही भाजपा जो गौरक्षा के नाम पर हमारे भाइयों का कत्लेआम कर रही है। बल्कि भाजपा को गौ रक्षा की चिंता नहीं है गाय का विदेशों में निर्यात चल रहा है।  इसलिए मैं सभी देशवासियों से विनम्र निवेदन करता हूं कि कांग्रेस को भारी बहुमत के साथ जिताएं । जिससे मेरे देश का विकास संभव हो सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.